Friday, July 30, 2021
Home Latest News कांग्रेस और बसपा से इंकार लेकिन छोटे दलों से गठबंधन-महत्वपूर्ण है अखिलेश...

कांग्रेस और बसपा से इंकार लेकिन छोटे दलों से गठबंधन-महत्वपूर्ण है अखिलेश यादव की ये सियासी रणनीति

  (शिब्ली रामपुरी)

यूपी. देश का सबसे बड़ा राज्य और विधानसभा चुनाव में एक साल से भी कम समय रह गया है तो ज़ाहिर है सभी राजनीतिक पार्टियों ने गोटियां फिट करनी आरम्भ कर दी हैं. समाजवादी पार्टी भी चुनावी मैदान में उतरने की तैयारी कर चुकी है और सपा अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक चैनल को दिए इंटरव्यू में साफ़ कर दिया है कि कांग्रेस और बसपा से चुनाव में कोई गठबंधन नहीं होगा लेकिन छोटे दलों से गठबंधन करके समाजवादी पार्टी चुनावी मैदान में उतरेगी. दरअसल अखिलेश ने छोटी छोटी पार्टियों से गठबंधन का इरादा बहुत सोच समझकर किया है क्यूंकि वो ये बात भली भांति जानते हैं कि भाजपा जैसी मज़बूत पार्टी से चुनावी मैदान में मुक़ाबला आसान नहीं है. भाजपा के विजय रथ ने विपक्षी पार्टियों की क्या स्थिति कर दी है ये आईने की तरह साफ़ है. जहां तक छोटी पार्टियों की बात है तो ये पार्टियां ख़ुद भले ही चुनाव में सफल ना रहती हों लेकिन बड़ी जनाधार वाली पार्टियों का सियासी गणित ज़रूर बिगाड़ देती हैं. जैसे बिहार में एमआईएम पर आरोप लगा कि उसने ख़ुद तो महज़ पांच ही सीटे जीती लेकिन कांग्रेस और तेजस्वी यादव को काफ़ी सीटों पर नुकसान पहुंचाया. महाराष्ट्र में भी ऐसा ही कुछ हुआ था.
यूपी तो फिर भी सबसे बड़ा राज्य है यहां पर तो कई छोटे दल क़िस्मत आज़माते रहे हैं और अब भी बेताब हैं ऐसे में अखिलेश का छोटे छोटे दलों से गठबंधन का निर्णय शायद काफ़ी कुछ वर्तमान हालात को देखकर कहता है. अखिलेश को वैसे भी कांग्रेस और बसपा के साथ से कोई फायदा नहीं रहा तो ऐसे में उनका निर्णय तजुर्बे की बुनियाद पर अपनी जगह सही है हालांकि यूपी में भाजपा के विजय रथ को रोकना विपक्षी पार्टियों के लिए आसान नहीं होगा लेकिन फिर भी कोशिशे और तैयारी तो आरम्भ हो चुकी है.

RELATED ARTICLES

केंद्र सरकार ने मेडिकल कॉलेजों के दाखिले में ओबीसी और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों के लिए आरक्षण को मंजूरी दी

अब ग्रेजुएट यानी एमबीबीएस, बीडीएस और पोस्ट ग्रेजुएट, डिप्लोमा स्तर के मेडिकल कोर्सों के दाखिले में अन्य पिछड़ा वर्ग यानी OBC के छात्रों को...

मोबाइल छीनने का विरोध करने पर दो युवकों पर चाकू से हमला

सिवान:जीबी नगर थाना क्षेत्र के चौकी हसन धनुक टोला गांव में बुधवार की देर रात की यह घटना है। चौकी हसन निवासी नीतीश कुमार...

प्रदेश में बिजली की दरें यथावत रखी गई

उत्तर प्रदेश विद्युत नियामक आयोग ने गुरुवार टैरिफ जारी कर बिजली की दरें बढ़ाने के कयास को विराम दे दिया है। प्रदेश में बिजली...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

केंद्र सरकार ने मेडिकल कॉलेजों के दाखिले में ओबीसी और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों के लिए आरक्षण को मंजूरी दी

अब ग्रेजुएट यानी एमबीबीएस, बीडीएस और पोस्ट ग्रेजुएट, डिप्लोमा स्तर के मेडिकल कोर्सों के दाखिले में अन्य पिछड़ा वर्ग यानी OBC के छात्रों को...

मोबाइल छीनने का विरोध करने पर दो युवकों पर चाकू से हमला

सिवान:जीबी नगर थाना क्षेत्र के चौकी हसन धनुक टोला गांव में बुधवार की देर रात की यह घटना है। चौकी हसन निवासी नीतीश कुमार...

प्रदेश में बिजली की दरें यथावत रखी गई

उत्तर प्रदेश विद्युत नियामक आयोग ने गुरुवार टैरिफ जारी कर बिजली की दरें बढ़ाने के कयास को विराम दे दिया है। प्रदेश में बिजली...

निष्पक्ष और स्वतंत्र पत्रकारिता के लिए कठिन होते हालात

ईमानदार पत्रकारों का प्रोत्साहन की जगह उत्पीड़न क्यों? (शिब्ली रामपुरी) हाल ही में देश के दो प्रमुख मीडिया संस्थानों पर आयकर विभाग के छापों...

Recent Comments