Wednesday, June 16, 2021
Home Latest News बुलंदी पर पहुंचना नहीं ठहरना कमाल होता है

बुलंदी पर पहुंचना नहीं ठहरना कमाल होता है

 (शिब्ली रामपुरी) 

वर्तमान समय में जिस एक नाम का जिक्र हर जबान पर है वह सुशील कुमार है. सुशील कुमार किसी पहचान के मोहताज तो नहीं है लेकिन वर्तमान समय वह नायक की बजाय खलनायक के रूप में सामने आए हैं. जिसे देखकर एक मशहूर शेर दिल दिमाग में आता है कि -बुलंदी पर पहुंचना कमाल नहीं ठहरना कमाल होता है. शायद बुलंदी पर पहुंचने के बाद सुशील कुमार बुलंदी पर ठहर नहीं सके और उनमें मगरूरियत जिसे घमंड भी कहते हैं वह आ गया और फिर उन्होंने जो कुछ किया वह सबके सामने है. हालांकि अभी जांच चल रही है और सुशील कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया है.

आइये जरा इस पहलवान के बैकग्राउंड पर नजर डालते हैं. हरियाणा के एक छोटे से गांव से निकलकर अपनी मेहनत और लगन और जिसे कहेंगे टैलेंट के बलबूते कुश्ती के अंतरराष्ट्रीय आसमान पर छाने वाले सुशील कुमार इकलौते ऐसे भारतीय हैं कि जिन्होंने दो ओलंपिक मेडल जीते हैं उनके नाम वर्ल्ड टाइटल है और वह कॉमनवेल्थ गेम्स में तीन बार गोल्ड मेडल का खिताब अपने नाम भी कर चुके हैं उनकी उपलब्धियां इतनी ही नहीं है बल्कि उनको पदम श्री पुरस्कार अर्जुन अवार्ड से लेकर राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है. लेकिन जिस तरह के हालात वर्तमान समय में है उनको देखकर लोगों को अफसोस होता है क्या यह वही इतना टैलेंटेड खिलाड़ी है कि जिस पर हत्या का आरोप लगा है. सुशील कुमार ने कितनी मेहनत मशक्कत से यह सब उपलब्धियां हासिल की लेकिन फिर ऐसा हुआ कि सब उपलब्धियां जमीन पर धरी की धरी रह गई और कामयाबी की चकाचौंध में सुशील कुमार ने एक ऐसी घटना को अंजाम दे दिया कि जिसमें यह कहना गलत नहीं होगा कि उनका मान सम्मान इज्जत एक ही झटके में मिट्टी में मिल गया. सुशील कुमार की तलाश में दिल्ली पुलिस ने न जाने कहां-कहां का कोना छाना और सुशील कुमार गिरफ्तारी से बचने के लिए क्या-क्या पैतरे अपनाते रहे. पुलिस ने सुशील कुमार के नाम एक लाख रुपये का इनाम भी रखा था और अब सुशील कुमार पुलिस की गिरफ्त में है. सुशील कुमार पर अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर मॉडल टाउन के एम ब्लॉक इलाके में मौजूद एक फ्लैट में पहुंचकर वहां रहने वाले सागर धनगढ़ नाम के एक लड़के को उसके तीन साथियों समेत अपहरण करने और फिर मारपीट करने का आरोप है.बताया जाता है कि सुशील कुमार ने अपने साथियों के साथ मिलकर सागर धनगढ़ नाम के एक युवक के साथ मारपीट की और वह उनका फैन भी था. सागर समेत उसके दो दोस्तों की इतनी बुरी तरह से पिटाई की गई कि उनको अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा.सागर के बाकी दोस्तों की तो जैसे तैसे जान बच गई लेकिन इस पिटाई में बुरी तरह से घायल हुए सागर धनकड़ को इतनी गहरी चोट आई थी कि उनकी जान चली गई. सागर जूनियर कुश्ती चैंपियन थे और जैसे ही उनके हत्या की खबर लोगों तक पहुंची तो खेल जगत और खासकर कुश्ती की दुनिया में हड़कंप मच गया और सुशील कुमार के रूप में एक ऐसा चेहरा सामने आया कि जिसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की थी बताया जाता है कि सुशील कुमार और सागर धनखड़ के बीच रुपयों के लेन-देन का एक मामूली विवाद था. बताया यह भी जाता है कि जिस वक्त सुशील कुमार सागर के साथ मारपीट करने पहुंचे तो उस समय सुशील कुमार के साथ कुछ खतरनाक किस्म के अपराधी भी थे. हत्या में सुशील कुमार का नाम सामने आने के बाद से उनका मान सम्मान सब कुछ खास में मिलता दिखाई दे रहा है और कल तक जिसे लोग नायक समझ रहे थे आज वह एक खलनायक का रूप धारण कर चुका है. हालांकि पुलिस की तफ्तीश जारी है और उसमें जांच के बाद ही पता चलेगा कि सुशील कुमार क्या वाकई में अपराधी हैं लेकिन फिलहाल तक जिस तरह के समाचार आ रहे हैं वह यह साबित करते हैं कि सुशील कुमार को शायद शोहरत और दौलत का इतना गुरूर हो गया था कि उनके पांव जमीन पर नहीं रहे और उन्होंने इसी घमंड में आकर इस वारदात को अंजाम दे डाला.

RELATED ARTICLES

कांग्रेस और बसपा से इंकार लेकिन छोटे दलों से गठबंधन-महत्वपूर्ण है अखिलेश यादव की ये सियासी रणनीति

(शिब्ली रामपुरी) यूपी. देश का सबसे बड़ा राज्य और विधानसभा चुनाव में एक साल से भी कम समय रह गया है तो ज़ाहिर...

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह के दिल्ली स्थित घर पर कुछ अज्ञात लोगों ने तोड़फोड़ की

दिल्ली पुलिस के डिप्टी कमिश्नर दीपक यादव ने कहा कि संजय सिंह के घर पर लगी नेम प्लेट को तोड़ने की कोशिश की गई...

मंदिर निर्माण के लिए करोड़ों लोगों से जुटाए चंदे का दुरुपयोग और भ्रष्टाचार महापाप है:कांग्रेस

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस मामले में टवीट कर कहा 'श्रीराम स्वयं न्याय हैं, सत्य हैं, धर्म हैं-उनके नाम पर धोखा...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रामपुर मनिहारान के पत्रकारों ने किया ज़िलाध्यक्ष आलोक तनेजा पर दर्ज एफआईआर का विरोध

कोतवाली प्रभारी को सौंपा ज्ञापन रामपुर मनिहारान (शिब्ली रामपुरी)ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के ज़िला अध्यक्ष आलोक तनेजा पर थाना चिलकाना पुलिस द्वारा लगाए गय झूठे एवं...

कांग्रेस और बसपा से इंकार लेकिन छोटे दलों से गठबंधन-महत्वपूर्ण है अखिलेश यादव की ये सियासी रणनीति

(शिब्ली रामपुरी) यूपी. देश का सबसे बड़ा राज्य और विधानसभा चुनाव में एक साल से भी कम समय रह गया है तो ज़ाहिर...

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह के दिल्ली स्थित घर पर कुछ अज्ञात लोगों ने तोड़फोड़ की

दिल्ली पुलिस के डिप्टी कमिश्नर दीपक यादव ने कहा कि संजय सिंह के घर पर लगी नेम प्लेट को तोड़ने की कोशिश की गई...

मंदिर निर्माण के लिए करोड़ों लोगों से जुटाए चंदे का दुरुपयोग और भ्रष्टाचार महापाप है:कांग्रेस

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस मामले में टवीट कर कहा 'श्रीराम स्वयं न्याय हैं, सत्य हैं, धर्म हैं-उनके नाम पर धोखा...

Recent Comments